मोबाइल की दुश्मन हैं ये आदतें

Written by Anil Patil, Published on April 13, 2022 8:26 am, GMT+0530

मोबाइल की दुश्मन हैं ये आदतें

स्मार्ट फोन का इस्तेमाल करने का हम हर तरह की साक्रीन की सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं और समय-समय पर सॉफ्टवेयर अपडेट भी करते रहते हैं। इसके बावजूद कुछ ही महकी बैटरी कमजोर होने लगती है या फिर मोबाइल ठीक से काम करना बंद कर देता है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि इतनी सावधानियां बरतने के बावजूद गलती कहाँ हो रही है।

खिलौने की तरह उपयोग

जब मोबाइल नया होता है उसे बहुत संभालकर रखा जाता है। फिर कुछ महीनों में उसे खिलौने की तरह उपयोग करने लगते हैं, जैसे कभी मेज पर पटककर और बिस्तर पर फेंककर रखते हैं या कोई भी •सामान मोबाइल पर रख देते हैं। इससे मोबाइल पर खरोंचें तो पड़ती नही हैं, अंदर मौजूद नाजुक मशीन भी हिलने से ख़राब हो सकती है या अंदर ही अंदर टूट सकती है। मोबाइल नया हो या पुराना, उसे आराम से ही रखें।

नेटवर्क से भी असर पड़ेगा

कुछ जगहों पर सिग्नल आसानी से नहीं मिल पाते, जिसके कारण भी मोबाइल की बैटरी कमजोर पड़ने लगती है। दरअसल जब मोबाइल कमजोर सिग्नल वाले क्षेत्र में मौजूद होता है, जो वो सिग्नल ढूंढने की कोशिश करता है। इससे बैटरी गर्म होने लगती है और कमजोर हो जाती है। मोबाइल चार्ज करने के बाद बैटरी जल्दी ख़त्म होने लगती है। यदि किसी ऐसे स्थान पर जा रहे हैं जहां सिग्नल कमजोर हैं तो मोबाइल को फ्लाइट मोड में डाल दें और जबरदस्ती इंटरनेट इस्तेमाल करने की कोशिश न करें।

Also Read: Disney+ Hotstar Premium Account 2022, Can you get Hotstar VIP/Premium Subscription for Free 2021!

मोबाइल की गर्माहट को अनदेखा करना

कई बार मोबाइल इस्तेमाल करते वक्त गर्म हो जाता है जिसका असर बैटरी पर पड़ता है। बैटरी की लाइफ धीरे धीरे कम होने लगती है। अगर मोबाइल गर्म होने लगे, तो इसका कवर हटा दें और कुछ देर उपयोग न करें। चार्जिंग पर लगाकर मोबाइल इस्तेमाल करने से भी यह गर्म हो जाता है और धूप के संपर्क में आने से भी। इसके अलावा बिना रुके या हर थोड़ी देर में मोबाइल का उपयोग करने से भी यह गर्म हो सकता है। और बैटरी प्रभावित हो सकती है।

बैटरी का ख्याल न रखना

कुछ लोगों की ये आदत होती है कि वे बैटरी पूरी खत्म होने पर ही फोन को चार्ज करते हैं। ऐसा करने से भेटरी की कम होती है और वो उतनी नहीं चलती न होने पर चलती थी ऐसा न हो इसके लिए भेटरी को 30 फीसदी से ऊपर रखने की कोशिश करें सेंसर को जांचने के लिए इसे कभी-कभी डिस्चार्ज होने दे सकते है जिससे बैटरी सालों-साल चलती है। लेकिन हमेशा फोन की बैटरी शून्य होने पर ही चार्ज करना बैटरी की क्षमता को कम करता है।

केस का उपयोग न करना

अमूमन लोगों को लगता है कि मोबाइल फोन पर कवर लगाने से वह अच्छा नहीं दिखता। किंतु कई बार ये दिखाया महंगा पड़ जाता है। कभी मोबाइल गिर जाए या टकरा जाए तो ऊपरी हिस्से के साथ-साथ अंदर की मशीन को भी पहुंच सकता है। लिहाजा मोबाइल का कबर या के इस्तेमाल करना बहुत जरूपी है। केस यही लें जिसकी किनारियों पर गार्ड लगा हो। इससे वो गिरने पर भी फोन को सुरक्षा देगा। साथ ही स्क्रीन गार्ड भी अच्छी गुणवत्ता का व स्क्रैच प्रूफ लगवाएं, ताकि फोन के गिरने पर स्क्रीन को खतरा न रहे।